Sunday, November 08, 2009

किताब का आखिरी अक्षर

बरसों से जेहन में कुलबुलाता एक ख्याल है। बहुत से दुसरे ख्यालों के बीच डूबता उतरता हुआ। कभी एकदम दबा हुआऔर कभी फूट पड़ने को बेताब। कभी अकेला सहमा हुआ सा और कभी अपने साथ सैकड़ों ख्यालों के तार जोड़े हुए।जब भी उथले में होता तो मैं उसका खाका पन्नो पर खीचने की कोशिश करता, ताकि उसे सही से पहचान पाऊं और शायद दूसरो को दिखा पाऊं। बरसों तक झलक देख देख कर उस अनकहे ख्याल की तस्वीर बनाने की कोशिश की है पर इतने वक्त से इस अधूरे ख्याल से शायद कुछ अनजाना सा इश्क हो गया है उसकी उमर होने को है पर फ़िर भीउसे छोड़ते नही बनता। इस ख्याल का अंजाम क्या होना चाहिए। कुछ ऐसा जो इतने सच्चे इश्क का फलसफा कहलाने के काबिल हो। या फ़िर डरता हूँ की उस खाली जगह को भरने के लिए दूसरा ख्याल कहाँ से लाऊंगा लाखकोशिशों पर भी किताब का वो आखिरी अक्षर लिखा नही जाता है

Friday, November 06, 2009

सूरज ..

दूर पहाड़ी के पीछे से झांकता सुबह का लाल सुनहरा सूरज, कुछ पुराना सा दोस्ताना लगता है। बचपन में भी मेरे घर क पास वाले पथरीले पहाड़ से अलसाया सा जगता था, अपने रौशनी भरे हाथों से मुझे सहलाता, कुनकुनी धुप मेरे चेहरे पर मलता और दिन के सफ़र पर निकल जाता। शाम को जब मैं स्कूल से आता, तब सूरज भी वापिस आने को होता। पर उसके आने के पहले उसके दोस्त भी आते। वो लाल और नारंगी बादलों के साथ महकती हवा भी होती। फिर हम अपने दिन का हिसाब लिया दिया करते थे, मैंने कितने अक्षर याद किए और उसने कितने बादलों को रास्ता दिखाया। मैं उसे देख कर खुश होता और वो मेरी बातों पर खिलखिलाता था। कुछ देर के खेल के बाद फिर वो सब धुन्धलके में चले जाते। अगली सुबह वापिस मिलने के लिए। आज बरसो बाद फिर से इस दूसरी पहाडी के ऊपर दिखा है। एहसास पुराना सा ही है पर दूरियां कुछ बढ़ गयी हैं, सालों न मिलने से कुछ हिचकिचाहट सी आ गयी है। पहाड़ी से झांकते हुए उसने मुझे देखा फिर उस टेलीफोन के नए टावर के पीछे छुपता हुआ अपने सफ़र पर निकल गया।

कल फिर मिलने आऊंगा, देखूंगा की कब तक मुझसे नजरें बचाता है। कब तक उसे सुबह और शाम की वो बचकानी बातें याद नही आती, जब हम दोनों एक दुसरे को अपने दिन के किस्से सुनाया करते थे। कुछ रूठा है तो क्या हुआ, मना ही लूँगा, दोस्त है जाएगा कहाँ।

Wednesday, November 04, 2009

morning whisper

prettyladyniceshadeofflowinghairandinterestinglipswithaniceskin
and nice colours
fresh morning colours
BEAUtiful picture!