Thursday, September 11, 2014

Purple Rain

भीगे कोयले पर सुलगती हुयी आँखें   . . . मैंने देखा था उसे अबकी बारिश में सपने डुबोते हुए


No comments:

Post a Comment